JOIN WHATSAPP GROUP

These 10 Important Rules Changing From January 1, Every Change Will Have A Direct Impact On Your Pocket

These 10 Important Rules Changing From January 1, Every Change Will Have A Direct Impact On Your Pocket 



1 जनवरी से बदल रहे हैं विशेष पढ़ें / ये 10 महत्वपूर्ण नियम, आपकी जेब पर सीधा असर पड़ेगा

चेक भुगतान, एलपीजी सिलेंडर की कीमतों से लेकर जीएसटी फाइलिंग तक के कई नियम 1 जनवरी, 2021 से बदल रहे हैं। चूंकि ये नियम हर किसी के दैनिक जीवन से जुड़े हुए हैं, इसलिए आपको इन नियमों के बारे में जानना होगा।

2021 का नया साल अपने साथ बहुत सी नई चीज़ें लेकर आएगा। जनवरी 2021 से न केवल आपके होम कैलेंडर बल्कि आपके जीवन से जुड़ी कई चीजें बदलने जा रही हैं। यहां हम आपको ऐसे 10 बड़े बदलावों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्हें जानना आपके लिए जरूरी है।

1 जनवरी से कार और महंगी हो जाएगी



देश के 3 सबसे बड़े कार निर्माता अपनी कारों की कीमत बढ़ाने जा रहे हैं। अगर आप नई कार खरीदने की सोच रहे हैं, तो आपके लिए कार खरीदने का यह सही समय है क्योंकि जल्द ही कई बड़े कार निर्माता ब्रांड अपनी कार को महंगा कर देंगे। जनवरी 2021 से कार की कीमतें बढ़नी तय हैं। कई कंपनियों ने पहले ही इसकी घोषणा की है, जबकि कुछ कंपनियां जल्द ही इस तरह की घोषणा कर सकती हैं। अब तक, जिन कंपनियों ने अपने वाहनों के लिए मूल्य वृद्धि की घोषणा की है, उनमें मारुति सुजुकी, फोर्ड इंडिया और किआ मोटर्स शामिल हैं।

एक जनवरी से कारों में फास्टैग अनिवार्य है



1 जनवरी 2021 से टोल पार करने के लिए कारों में फास्टैग की आवश्यकता होगी। फास्टैग के बिना राष्ट्रीय राजमार्ग के टोल को पार करने वाले ड्राइवरों को दोहरा शुल्क देना होगा। वर्तमान में सभी टोल प्लाजा पर 80 प्रतिशत लाइनों को फास्टैग और 20 प्रतिशत लाइनों को कैश के रूप में उपयोग किया जा रहा है। 1 जनवरी से सभी लाइव फास्टैग होंगे। आपको अपने फास्टैग खाते में न्यूनतम 150 रुपये रखने की आवश्यकता है। अन्यथा फास्टैग को ब्लैकलिस्ट कर दिया जाएगा।

म्यूचुअल फंड में निवेश का नियम बदल जाएगा

निवेशकों के हित में, बाजार नियामक सेबी ने जोखिम को कम करने के लिए म्यूचुअल फंड के नियमों में कुछ बदलाव किए हैं। SEBI ने मल्टीकैप म्यूचुअल फंड के लिए परिसंपत्ति आवंटन नियमों में संशोधन किया है। नए नियमों के तहत, 75 फीसदी फंडों को अब इक्विटीज में निवेश करना होगा, जो मौजूदा 65 फीसदी से अधिक है। सेबी के नए नियमों के अनुसार मल्टी-कैप फंड की संरचना बदल जाएगी। मिडकैप और स्मॉलकैप में 25-25 फीसदी निवेश करना जरूरी होगा। वहीं, 25 प्रतिशत को बड़े कैप पर रोकना होगा। पहले, फंड मैनेजरों को उनकी पसंद के अनुसार आवंटित किया जाता था। वर्तमान में लार्जकैप का भार मल्टीकैप में अधिक है। नया नियम 1 जनवरी, 2021 से प्रभावी होगा।

1 जनवरी से UPI भुगतान के लिए अधिक शुल्क देना होगा

1 जनवरी से अमेजन पे, गूगल पे और फोनपे ट्रांजेक्शन पर अतिरिक्त शुल्क लगेगा। दरअसल, एनपीसीआई ने 1 जनवरी से थर्ड पार्टी एप्लिकेशन प्रोवाइडर द्वारा संचालित UPI पेमेंट सर्विसेज (UPI पेमेंट्स) पर अतिरिक्त शुल्क लगाने का फैसला किया है। NPCI ने नए साल में थर्ड पार्टी ऐप्स पर 30 फीसदी कैप लगाई है। हालांकि, पेटीएम को यह चार्ज नहीं देना होगा।

आपके लैंडलाइन से कॉल करने का तरीका बदल जाएगा

देशभर के लैंडलाइन से मोबाइल पर कॉल करने के लिए अब 1 जनवरी से नंबर से पहले जीरो लगाना जरूरी होगा। ट्राई ने इस आंतरिक कॉल के लिए 29 मई, 2020 से पहले नंबर को शून्य करने की सिफारिश की। यह टेलीकॉम कंपनियों को अधिक संख्या बनाने में मदद करेगा। डायल करने के तरीके में बदलाव से टेलीकॉम कंपनियां मोबाइल सेवाओं के लिए अतिरिक्त 254.4 करोड़ नंबर हासिल कर सकेंगी। यह भविष्य की जरूरतों को पूरा करने में मदद करेगा।

जीएसटी रिटर्न के नियम बदल जाएंगे

सरकार छोटे व्यापारियों को राहत देने के लिए बिक्री रिटर्न के मामले में कुछ और कदम उठाने की तैयारी कर रही है। जिसके तहत जीएसटी प्रक्रिया को आसान बनाया जाएगा। सूत्रों के मुताबिक, नई प्रक्रिया में, 5 करोड़ रुपये तक के टर्नओवर वाले छोटे उद्यमियों को अगले साल जनवरी से वर्ष के दौरान केवल 4 बिक्री रिटर्न दाखिल करने होंगे। इस समय, व्यापारियों को मासिक आधार पर 12 रिटर्न (GSTR3B) दाखिल करना होगा। इसके अलावा 4 जीएसटीआर 1 चुकाना होगा। नया नियम लागू होने के बाद करदाताओं को केवल 8 रिटर्न दाखिल करने होंगे। जिसमें से 4 GSTR, 3B और 4 GSTR 1 रिटर्न दाखिल करना होगा।

टर्म प्लान 1 जनवरी से कम प्रीमियम पर खरीदे जा सकते हैं

1 जनवरी से, आप कम प्रीमियम के लिए एक साधारण जीवन बीमा (स्टैंडर्ड टर्म प्लान) पॉलिसी खरीद सकेंगे। आईआरडीएआई ने आरोग्य संजीव नामक एक मानक नियमित स्वास्थ्य बीमा योजना शुरू करने के बाद बीमा कंपनियों को एक मानक शब्द जीवन बीमा शुरू करने का निर्देश दिया है। इन्हीं निर्देशों के बाद, बीमा कंपनियां 1 जनवरी से एक साधारण जीवन बीमा पॉलिसी लॉन्च करेंगी। नई बीमा योजना में, कम प्रीमियम के लिए टर्म प्लान खरीदने का विकल्प होगा। साथ ही, सभी बीमा कंपनियों की पॉलिसी में शर्तें और कवर राशि समान होगी।

चेक से भुगतान करने का तरीका 1 जनवरी से बदल जाएगा

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) नए साल की पहली सुबह, यानी 1 जनवरी, 2021 से चेक भुगतान करने के नियमों में बदलाव कर रहा है। RBI के नए पॉजिटिव पे सिस्टम के तहत, कुछ सूचनाओं को चेक द्वारा 50,000 रुपये या उससे अधिक के भुगतान पर फिर से पुष्टि करनी होगी। हालांकि यह खाताधारक पर निर्भर करेगा कि वह इस सुविधा का लाभ उठाना चाहता है या नहीं। देश में तेजी से बढ़ रहे बैंकिंग धोखाधड़ी के मामलों पर अंकुश लगाने के लिए RBI ने यह निर्णय लिया।

बिजली कनेक्शन तुरंत 1 जनवरी से उपलब्ध होगा

सरकार बिजली उपभोक्ताओं को नए साल का तोहफा दे सकती है। बिजली मंत्रालय 1 जनवरी से उपभोक्ता अधिकार नियमों को लागू करने की तैयारी कर रहा है। इसके बाद, बिजली वितरण कंपनियों को ग्राहकों को निर्धारित अवधि के भीतर सेवाएं प्रदान करना होगा, अगर वे ऐसा करने में विफल रहते हैं तो ग्राहक को दंडित किया जा सकता है। मसौदा नियमों को कानून मंत्रालय को भेज दिया गया है। एक बार अनुमोदित होने के बाद, ग्राहकों को नया कनेक्शन लेने के लिए बहुत अधिक कागजी कार्रवाई करने की आवश्यकता नहीं होगी। कंपनियों को शहरी क्षेत्रों में सात दिनों के भीतर, नगरपालिका क्षेत्रों में 15 और ग्रामीण क्षेत्रों में एक महीने के लिए बिजली कनेक्शन देना होगा।

1 जनवरी से इन स्मार्टफोन में व्हाट्सएप काम नहीं करेगा

लोकप्रिय इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप व्हाट्सएप का समर्थन अगले साल की शुरुआत से 1 जनवरी 2021 तक कुछ स्मार्टफ़ोन के लिए बंद कर दिया जाएगा। व्हाट्सएप का समर्थन नहीं करने वाले स्मार्टफोन में एंड्रॉइड और आईफोन शामिल हैं। यानी पुराने वर्जन सॉफ्टवेयर में व्हाट्सएप काम नहीं करेगा। रिपोर्ट के मुताबिक, व्हाट्सएप पुराने संस्करणों पर चलने वाले स्मार्टफोन पर iOS 9 और Android 4.0.3 ऑपरेटिंग सिस्टम पर काम नहीं करेगा। व्हाट्सएप सपोर्ट को आईफोन 4 या पुराने से भी हटाया जा सकता है। हालाँकि, इसे अपडेट किया जा सकता है अगर iPhone के अगले संस्करण यानी iPhone 4s, iPhone 5s, iPhone 5C, iPhone 6, iPhone 6s में पुराना सॉफ़्टवेयर है। अपडेट करने के बाद इस आईफोन मॉडल में व्हाट्सएप चलाया जा सकता है। एंड्रॉइड स्मार्टफोन की बात करें तो व्हाट्सएप को एंड्रॉइड 4.0.3 से पुराने संस्करणों पर चलने वाले स्मार्टफोन पर सपोर्ट नहीं किया जाएगा।

न्यूज रिपोर्ट पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

0 Comments: